बुधवार, 26 फ़रवरी 2020

Tagged Under: , , ,

अन्तरा और छाया की जानकारी के लिए दो दिवसीय कार्यशाला का हुआ आयोजन

लेखक: अपना समाचार दिनांक: फ़रवरी 26, 2020
  • शेयर करे

  • - सभी प्रखंडों से 2 एएनएम को दिया प्रशिक्षण
    - परिवार नियोजन के अस्थायी माध्यम पर दिया जा रहा जोर

    पूर्णियाँ : परिवार नियोजन के लिए अस्थायी माध्यम आजकल लोगों द्वारा ज्यादा संख्या में इस्तेमाल किया जा रहा है. ऐसे में लोगों तक सभी अस्थायी माध्यमों की जानकारी पहुचना बहुत जरूरी है. इसके लिए सभी प्रखंडों की 2-2 एएनएम को सदर अस्पताल के प्रतिरक्षण सभागार में 2 दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया. इसमें एएनएम को सभी अस्थायी माध्यमों की जानकारी दी गई व उनके इस्तेमाल के तरीके बताए गए. 

    अस्थायी माध्यम में अन्तरा एवं छाया बेहतर उपाय : 
    चिकित्सा पदाधिकारी सह प्रशिक्षक डॉ विभाष कुमार झा ने बताया कि आज के समय में परिवार नियोजन के अस्थायी माध्यमों में अन्तरा एवं छाया सबसे बेहतर विकल्प है. आम नागरिकों द्वारा इसके इस्तेमाल करने की संख्या में भी लगातार वृद्धि देखी गई है. इसमें अन्तरा इंजेक्शन तीन महीने के लिए गर्भ निरोधक का कार्य करता है जबकि छाया साप्ताहिक गोली है जो हर सप्ताह गर्भ निरोधक के तौर पर हर महिलाएं इस्तेमाल कर सकती है. इसके कोई साइड इफ्फेक्ट नहीं होते हैं व किसी भी सामान्य महिलाओं द्वारा इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.
    प्रखंड स्तर पर भी दिया जायेगा प्रशिक्षण :
    केअर इंडिया के परिवार नियोजन समन्यवक सनत कुमार गुहा ने कहा कि जिला स्तर पर सभी प्रखंड से 2-2 एएनएम का प्रशिक्षण चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा करवाने के बाद इन्ही एएनएम द्वारा सभी प्रखंडों के अन्य एएनएम को भी प्रशिक्षित किया जाएगा. इसमे सभी एएनएम को अन्तरा व छाया का कैसे इस्तेमाल किया जाता है, किनको दिया जा सकता है, यह कैसे काम करता है आदि की जानकारी दी जाएगी. इससे आम लोगों में इससे संबंधित भ्रांतियां कम होगी व लोग इसका ज्यादा संख्या में उपयोग कर सकेंगे. 

    अस्थायी साधन के लिए और भी विकल्प उपलब्ध :
    केअर इंडिया के ही परिवार नियोजन समन्यवय उत्पल कुमार ने बताया कि परिवार नियोजन के लिए अस्थायी गर्भ निरोधक के तौर पर अन्य विकल्प भी उपलब्ध है. अन्य विकल्प के रूप में कॉपर-टी, माला-एन की गोलियां, इजी पिल्स, पुरुषों के लिए कंडोम बेहतर साधन है. सभी प्रकार की जानकारी के लिए भी सभी प्रखंडों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में फैमिली प्लानिंग कार्नर खोला गया है जहां प्रशिक्षित आशा द्वारा जानकारी व साधन उपलब्ध कराई जा रही है.

    संवादक: अमन
    विवरण: अन्तरा और छाया की जानकारी के लिए दो दिवसीय कार्यशाला का हुआ आयोजन

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें