शनिवार, 23 नवंबर 2019

Tagged Under: ,

परिवार नियोजन में पुरूषों की सहभागिता बढ़ाना जरूरी : डॉ सुभाष चन्द्र पासवान

लेखक: अपना समाचार दिनांक: नवंबर 23, 2019
  • शेयर करे




  • पुरूष नसबंदी पखवाड़ा पर जागरूकता फैलायेगी सारथी रथ
    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
    निःशुल्क परिवार नियोजन साधनों का होगा वितरण

    पूर्णियाँ :परिवार नियोजन में पुरुषों की सहभागिता को बढ़ाने के उद्देश्य से 21 नवम्बर से 04 दिसंबर तक राज्य भर में “पुरुष नसबंदी पखवाडा’’ का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को सदर अस्पताल से जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ सुभाष चंद्र पासवान ने हरी झंडी दिखाकर सारथी जागरूकता रथ को रवाना किया। इस मौके पर प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने कहा कि परिवार नियोजन की जिम्मेदारी सिर्फ महिलाओं का नहीं है, इसमें अधिक से अधिक पुरूषों को अपना भागीदारी निभाना चाहिए। सभी के सहयोग से परिवार नियोजन कार्यक्रम में पुरुषों की सहभागिता बढ़ाने के लिए सभी स्तर पर व्यापक चर्चा की जरुरत है ताकि समुदाय में इसके लिए जागरूकता फैलाया जा सके। इस अवसर पर आईडीएसपी नीरज कुमार, डीसीएम संजय कुमार दिनकर, डीएएम सत्यम शिवम, केअर डीटीएल आलोक पटनायक, परिवार नियोजन समन्यवक सनत कुमार, उत्पल कुमार, आकांक्षा पाल समेत अन्य चिकित्साकर्मी मौजूद थे।

    गांव-गांव जाकर जागरूक करेगी सारथी रथ:
    सारथी वाहन के जरिए इस पखवाड़े के दौरान जिले के विभिन्न गांवों में घूम-घूम कर परिवार नियोजन के उद्देश्य, लाभ एवं परिवार नियोजन सेवा के अंतर्गत दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। चलचित्र एवं बैनर के माध्यम से आम जनों को परिवार नियोजन की जरूरत पर जानकारी दी जाएगी। जिसमें स्वस्थ माँ एवं तंदुरुस्त बच्चा हेतु सही उम्र में शादी, पहला बच्चा शादी के कम से कम दो साल बाद, दो बच्चों के बीच कम से कम तीन साल का अंतर, बच्चे दो ही जैसे विषयों पर परामर्श देते हुए गर्भनिरोधक उपाय अपनाने को बढ़ावा दिया जाएगा।

    यह आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध :
    सारथी जागरूकता रथ में जीपीएस की सुविधा उपलब्ध है। फ्लेक्स - बैनर के माध्यम से परिवार नियोजन सेवाओं के बारे में प्रचार-प्रसार
    परिवार नियोजन के उपायों के संदर्भ में लिफ़लेट का वितरण
    अस्थायी सेवा के तहत गर्भनिरोधकों जैसे कंडोम एवं गर्भ निरोधक गोलियों (माला-एन, छाया एवं आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली) का वितरण
    स्थायी सेवा यथा महिला नसबंदी, पुरुष नसबंदी, प्रसवोपरांत नसबंदी के लिए इच्छुक लाभार्थी का पंजीयन के साथ प्रसवोपरांत कॉपर-टी संस्थापन एवं गर्भनिरोधक सुई-अंतरा लगवाने हेतु पंजीयन की सुविधा
    आमजनों को जानकारी उपलब्ध कराने हेतु परामर्श की सुविधा

    दो चरणों में चलेगा पखवाड़ा :
    यह पखवाड़ा दो चरणों में चलाया जायेगा। 21 नवम्बर से 27 दिसम्बर तक पहला चरण की शुरूआत की गयी। जिसमें लाभार्थियों को परिवार नियोजन पर जानकारी दी जा रही है। 28 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक दूसरा चरण चलेगा, जिसमें विभिन्न आयोजनों के माध्यम से लोगों को पुरुष नसबंदी सेवा प्रदान की जाएगी।

    संवादक: अमन
    विवरण: परिवार नियोजन में पुरूषों की सहभागिता बढ़ाना जरूरी : डॉ सुभाष चन्द्र पासवान • पुरूष नसबंदी पखवाड़ा पर जागरूकता फैलायेगी सारथी रथ • जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना • निःशुल्क परिवार नियोजन साधनों का होगा वितरण

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें