शुक्रवार, 11 अक्तूबर 2019

Tagged Under: ,

सितंबर माह में टीबी के 222 नए मरीज खोजे गए

लेखक: अपना समाचार दिनांक: अक्तूबर 11, 2019
  • शेयर करे


    • सितंबर माह में टीबी के  222 नए मरीज खोजे गए
    • जिला स्वास्थ्य समिति की हुई समीक्षात्मक बैठक
    • आकांक्षी जिले के रूप में मिली राशि से दी जाएगी नई सुविधाएं
    • टीवी के मरीजों का किया जायेगा समुचित उपचार


    पूर्णियाँ: जिले के स्वास्थ्य प्रतिवेदनों में सुधार की आवश्यकता को देखते हुए आज जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षात्मक बैठक की गई. बैठक को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी राहुल कुमार ने बताया कि सितंबर माह ने 222 नए टीबी के मरीज खोजे गए है| जिसको मिला कर जिले में कुल 1433 टीबी रोगी हैं। उन्होंने कहा टीबी को जढ़ से खत्म करने के लिए से  सभी कार्यों का निष्पादन हेतु एक लक्ष्य निर्धारित करें और उसके अनुसार कार्य करें, जिससे जिले के स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार होगा.

    टीवी के मरीजों का किया जाएगा समुचित उपचार :
    जिले में टीवी के 1221 मरीज थे. इनमें सितंबर माह में 222 नए मरीजों की खोज हुई है तथा अब कुल संख्या 1433 हो गई है. नए मरीज सबसे अधिक कसबा में 20, पूर्णिया पूर्व में 21 तथा बायसी में 26 पाए गए हैं. इन सभी का समुचित उपचार कराया जा रहा है. उन सभी मरीजों को दवा पूर्ण रूप से उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया, जिससे उन्हें स्वास्थ सेवाओं का लाभ मिल सके.

    प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में सुधार लाने का दिया गया निर्देश:
    जिला अधिकारी ने रुपौली, बायसी और बी कोठी जहां स्वस्थ समस्याएं ज्यादा है वहां कार्य में सुधार लाने का निर्देश दिया. साथ हीं एमओआईसी को साप्ताहिक समीक्षा का निर्देश दिया गया. जिला अधिकारी ने निर्देश दिया कि सीजर डिलीवरी ऐसे संस्थानों में कराई जाए जहां सारी सुविधा उपलब्ध हो.


    प्रतिवेदनों एवं सुविधाओं में सुधार का दिया गया निर्देश :
    बैठक में दिये गए अमौर एवं बायसी के प्रतिवेदन में गड़बड़ी पाई गई और उसे देखते हुए उससे स्पष्टीकरण की मांग की गई. उसके साथ ही आगे से सही प्रतिवेदन देने की मांग की गई. जेनेरिक दवाओं की दुकानों पर जांच कराने का निर्देश ड्रग इंस्पेक्टर को दिया गया. भवानीपुर, बैसा, रुपौली में विद्युत कनेक्शन में सुधार करने के लिए नए ट्रांसफार्मर लगाए जाने का भी निर्देश दिया गया.


    आकांक्षी जिले के रूप में मिली राशि से बढ़ाई जाएगी नई सुविधाएं:
    स्वास्थ्य सुविधाओं में पूर्णियाँ जिला को आकांक्षी जिले के रूप में शामिल किया गया है. आकांक्षी जिले के रूप में जिले को प्राप्त हुई राशि से धमदाहा, भवानीपुर, सदर अस्पताल में सुधार एवं नई सुविधाएं दी जाएगी. जिले की रैंकिंग में ऊपर लाने के लिए कार्यों में सुधार लाने का निर्देश दिया गया.

    इस बैठक में उप विकास आयुक्त प्रो आईएएस सिविल सर्जन सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डीपीएम डीसीएम बीपीएम एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

    संवादक: अमन

    इसे भी पढ़े: पटना बाढ़ के साथ ही 400 डेंगू मामले भी आया सामने

    विवरण: जिले के स्वास्थ्य प्रतिवेदनों में सुधार की आवश्यकता को देखते हुए आज जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षात्मक बैठक की गई.

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें