शनिवार, 14 सितंबर 2019

Tagged Under: , ,

वाहन चेकिंग का मेगा अभियान बंद

लेखक: अपना समाचार दिनांक: सितंबर 14, 2019
  • शेयर करे
  • छवि स्रोत: उल्टा चस्मा 
    यातायात नियम में परिवर्तन होने के बाद एक से एक चालान और खबर आती रहती थी । अब एक नयी खबर सामने आयी है जिसमे चालकों तो कुछ राहत मिलेगी ।

    वाहन चेकिंग और चालान काटने का मेगा अभियान शुक्रवार से बंद हाे गया। यह अभियान 6 से 12 सितंबर तक ही था। इस बीच बाइक व कार चालकाें काे जिला प्रशासन ने कुछ राहत दी है। चेकिंग के दौरान बाइक चलाने वाले बिना हेलमेट के पकड़े गए तो उन्हें यह वादा करना होगा कि हेलमेट खरीद लेंगे। इस शर्त पर उन्हें एक हजार का जुर्माना नहीं देना होगा।

    वहीं अगर बाइक व कार का प्रदूषण नियंत्रण सर्टिफिकेट फेल हो गया है तो उन्हें वादा करना होगा कि वे जल्द वाहन की जांच कराकर प्रदूषण सर्टिफिकेट ले लेंगे तो उन्हें भी 10 हजार फाइन नहीं भरना होगा। जिला प्रशासन राजधानी के कुछ स्थानों पर वाहन एजेंसी के द्वारा हेलमेट रखेगा जहां से वाहन चालकों को खरीदने को कहा जाएगा। वैसे बाइक चालक कहीं से भी हेलमेट खरीदने का स्वतंत्र हैं।

    इसी तरह प्रशासन शहर के कुछ चयनित स्थानों पर प्रदूषण जांच केंद्र भी खुलवाएगा जहां से वाहन चालक वाहनों की जांच कराने के बाद पॉल्युशन अंडर कंट्रोल का सर्टिफिकेट ले लेंगे। जिला प्रशासन ने शुक्रवार की रात अहम बैठक कर ये फैसले लिए। बैठक में प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर, डीएम कुमार रवि, ट्रैफिक एसपी समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

    सोर्स: भास्कर

    इसे भी पढ़े : बिहार में मिलेगी यातायात एक्ट से बड़ी राहत

    विवरण: वाहन चेकिंग और चालान काटने का मेगा अभियान शुक्रवार से बंद हाे गया। यह अभियान 6 से 12 सितंबर तक ही था। इस बीच बाइक व कार चालकाें काे जिला प्रशासन ने कुछ राहत दी है। चेकिंग के दौरान बाइक चलाने वाले बिना हेलमेट के पकड़े गए तो उन्हें यह वादा करना होगा कि हेलमेट खरीद लेंगे। इस शर्त पर उन्हें एक हजार का जुर्माना नहीं देना होगा।

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें