बुधवार, 11 सितंबर 2019

Tagged Under: , , ,

पोषण अभियान के अंतर्गत अभिसरण कार्य योजना हेतु बैठक

लेखक: अपना समाचार दिनांक: सितंबर 11, 2019
  • शेयर करे

  • सही पोषण देश रोशन के संकल्प को पूर्ण करने के उद्देश्य से बुधवार को उप विकास आयुक्त अमन समीर की अध्यक्षता में अभिसरण कार्य योजना (CAP) की बैठक का आयोजन किया गया| बैठक को सम्बोधित करते हुए जिला उप विकास आयुक्त ने कहा कि पूरे माह में चलने वाली इस पोषण अभियान को ग्रामीण स्तर पर चलाया जाना बेहतर होगा क्योंकि वहीं सबसे अधिक कुपोषित बच्चे एवं अमोनिया से ग्रसित महिलाएं होती है |  उन्होंने कहा कि CAP बैठक प्रखंड स्तर पर करें और उनमें सभी संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे| उसमें केवल खानापूर्ति न हो क्योंकि पूर्णिया जिला आकांक्षी जिले में शामिल है| उन्होंने निर्देश दिया कि मध्यान भोजन के पहले सभी विद्यालयों में हाथ धोने की प्रक्रिया को अवश्य कराया जाए और आंगनबाड़ी केंद्रों पर भी बच्चों को हाथ धुलाया जाए और इसके बाद खाना खिलाया जाए| साथ ही आंगनवाड़ी केंद्र पर जहां चापाकल है वहां सोक्ता का निर्माण कराया जाए| साथ ही प्रखंड स्तर पर पोषण मेला का आयोजन कराए जाने का भी आदेश दिया गया| माता समूह सह महिला किसान मेला का आयोजन भी कराये जाने का निर्देश दिया गया| वीएचएसएनडी सूक्ष्म योजना अनुसार, किशोरी मीटिंग एवं प्रश्नोत्तरी तथा हाथ होने एवं गृह भ्रमण कराये जाने का भी  निर्देश दिया गया|
    उन्होंने बताया कि हाथ धोना एवं गृह भ्रमण की गतिविधि विस्तृत दिशानिर्देशों का अनुपालन करना अनिवार्य है| उन्होंनें बताया, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, ग्रामीण कार्य विभाग, जीविका, नेहरू युवा केंद्र आदि सभी को मिलकर इस कार्यक्रम को सफल बनाने का उद्देश्य रखा गया| ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक प्रभावित क्षेत्रों को चुनकर उन्हें कुपोषण से बाहर लाने का लक्ष्य रखा गया| इसके लिए सभी एक दूसरे से समन्वय स्थापित कर कार्यक्रम को सफल बनाने एवं इसकी समीक्षा लगातार प्रखंड एवं जिला स्तर पर करना सुनिश्चित करें| इस अवसर पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (आईसीडीएस), जिला कल्याण पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबन्धक, स्वस्थ्य भारत उत्प्रेरक तथा सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी,जीविका आदि उपस्थित थे|

    - ग्रामीण स्तर पर कार्य करने का दिया गया निर्देश
    - प्रखंड स्तर पर आयोजित किया जाएगा पोषण मेला

    संवादक --अमन कुमार

    इसे भी पढ़े : पोषण पुनर्वास केंन्द्र ने दी दो बहनों को नई ज़िंदगी

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें