सोमवार, 16 सितंबर 2019

Tagged Under: ,

निःशुल्क जाँच की सुविधा होगी उपलब्ध

लेखक: अपना समाचार दिनांक: सितंबर 16, 2019
  • शेयर करे

  • सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों एवं शहरी स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों को उनके क्षेत्र में चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। ऐसा देखा गया है कि गरीब एवं वंचित समूह के लोगों को जब तक गंभीर स्वास्थ्य समस्याएँ नहीं आती तब तक वे किसी स्वास्थ्य केंद्र पर उपचार के लिए नहीं जाते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए जिले के सभी 14 प्रखंडों के प्रार्थमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं शहरी स्लम के 6 बस्तियों माधोपाड़ा, गुलाबबाग, मधुबनी, माता स्थान चौक, पूर्णियाँ सिटी और पूर्णियाँ कोर्ट में 17 सितंबर यानि मंगलवार को स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जाएगा। इसको लेकर कार्यपालक निदेशक राज्य स्वास्थ्य समिति मनोज कुमार ने सभी जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र लिखकर निर्देशित किया है।

    चिकित्सक रहेंगे मौजूद : पत्र के माध्यम से स्वास्थ्य शिविर में सामान्य एवं विशेषज्ञ चिकित्सक,नर्स, पुरूष एवं महिला पारामेडिकल कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गए हैं। साथ ही शिविर में आने वाले व्यक्तियों को ईलाज उपरांत  निःशुल्क दवा भी दी जाएगी। इसके लिए जरूरी दवाओं की उपलब्धता भी शिविर में की जाएगी।

    निःशुल्क जाँच की होगी सुविधा : जिला कार्यक्रम पदाधिकारी ब्रजेश कुमार ने बताया कि शिविर में आने वाले लोगों की निःशुल्क स्वास्थ्य जाँच की जाएगी। जिसके लिए शिविर में ओपीडी की सेवाऐं, प्रमुख चिकित्सक, फार्मासिस्ट, पारा मेडिकल की भी व्यवस्था उपलब्ध होगी।

    जरूरी उपकरण भी होगा उपलब्ध: उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य जाँच के लिए शिविर में जरूरी उपकरण भी उपलब्ध होंगे। इसके लिए सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। जिसमें बीपी मशीन, स्टेथोस्कोप, वेइंग मशीन, खून जाँच की मशीन एवं अन्य जरूरी उपकरण उपलब्ध कराये जाएंगे।

    लोगों को जागरूक करेंगी आशा : स्वास्थ्य शिविर में अधिक से अधिक लोगों को शामिल करने के लिए आशा कार्य करेंगी। इसके लिए आशा अपने क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य शिविर के बारे में जानकारी देंगी एवं अधिक से अधिक लोगों को इसके विषय में जागरूक करेंगी।

    मरीजों की सुविधा का रखा जाएगा ख़्याल : स्वास्थ्य शिविर में मरीजों की भी सुविधा का ख़्याल रखा जाएगा। इसके लिए सुरक्षित स्थान का चयन, मरीजों के बैठने के लिए, पीने का शुद्ध जल एवं अत्यधिक भीड़ होने पर भीड़ प्रबंधन की भी सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी।

    • प्रखंडों एवं शहरी स्लम बस्तियों में होगा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन 
    • प्रत्येक प्रखंड के एक गाँव एवं दो शहरी स्लम बस्तियों में लगेगा शिविर 
    • निःशुल्क जाँच की सुविधा होगी उपलब्ध 
    • रेफ़रल के लिए एम्बुलेंस भी होगा उपलब्ध 

    संवादक: अमन


    इसे भी पढ़े: सड़क किनारे गड्ढे में मिला युवक का शव

    विवरण: सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों एवं शहरी स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों को उनके क्षेत्र में चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें