गुरुवार, 26 सितंबर 2019

Tagged Under: ,

जिला स्वास्थ्य व्यवस्था की हुई समीक्षात्मक बैठक

लेखक: अपना समाचार दिनांक: सितंबर 26, 2019
  • शेयर करे

  • बेहतर स्वास्थ्य, पोषण एवं शिक्षा को ध्यान में रखते हुये माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में नीति आयोग ने देश की कुल 115 जिलों का चयन आकांक्षी जिला के रूप में चुना| इनमें बिहार के तेरे आकांक्षी जिले में पूर्णिया भी है।
    इसी संदर्भ में बुधवार को जिला पदाधिकारी श्री राहुल कुमार की अध्यक्षता में यूनिसेफ बिहार पटना के 7 जिले के सभी विभाग स्वास्थ्य शिक्षा आईसीडीएस कृषि ग्रामीण विकास जन स्वास्थ्य एवं सभी डेवलपमेंट पार्टनर तथा केयर इंडिया प्रथम के साथ आकांक्षी जिला के सूचकांकों में आवश्यक सुधार हेतु समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया.
    समीक्षा बैठक का शुभारंभ यूनिसेफ बिहार के प्रोग्राम मैनेजर श्री शिवेंद्र पांडेय द्वारा सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी का स्वागत करते हुए किया गया एवं यूनिसेफ के सभी विशेषज्ञ द्वारा पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा, बाल संरक्षण, सामाजिक नीति एवं व्यवहार परिवर्तन से जुड़े सभी शिक्षकों की अद्यतन स्थिति प्रस्तुत की गई तथा भविष्य में किए जाने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत की गई.
    स्वास्थ्य सेवाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का हर संभव प्रयास: बैठक में उन्होंने कहा कि जिला में स्वास्थ्य सुविधा समाज के अंतिम व्यक्ति तक पूर्ण रूप से पहुंचे और चिकित्सा के अभाव के कारण किसी भी व्यक्ति को समस्या न हो, इसके लिए हर संभव प्रयास किया जाना आवश्यक है।
    शौचालय निर्माण पर दिया गया विशेष जोर: कुपोषण के दर में कमी लाने हेतु यूनिसेफ द्वारा तथा आंगनबाड़ी केंद्र में शौचालय निर्माण पर विशेष जोर दिया गया. स्वच्छता अंतर्गत ओडीएफ जनजीवन हरियाली मिशन को प्रभावी तरीके से लागू करने तथा शिक्षा के क्षेत्र में आवश्यक सुधार पर जोर दिया गया एवं यूनिसेफ से आवश्यक तकनीकी सहयोग प्रदान करने हेतु निर्देशित किया गया.
    उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में यूनिसेफ द्वारा मॉडल प्रसव कक्ष, मॉडल टीकाकरण केंद्र स्थापित किए गए हैं जहां सभी वर्गों के लोग पहुंच के स्वास्थ्य सेवा का लाभ उठा रहे हैं. जिला पदाधिकारी द्वारा अनुमंडलीय अस्पताल बनमनखी, धमदाहा, भवानीपुर में प्रसव कक्ष के लक्ष्य प्रमाणीकरण हेतु आवश्यक निर्देश दिया गया  साथ ही स्वाभिमान अंकुरण सामुदायिक स्तर पर कुपोषित बच्चों की देखभाल हेतु कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसमें आईसीडीएस को आवश्यक सहयोग देने हेतु निर्देशित किया गया.

    श्री अमन समीर (आईएएस, उप विकास आयुक्त), सिविल सर्जन, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक एवं जिला स्तरीय सभी पदाधिकारी तथा यूनिसेफ बिहार पटना से शिवेंद्र पांडेय प्रोग्राम मैनेजर, डॉ सैयद अली स्वास्थ्य विशेषज्ञ, श्री रवि पहरि पोषण विशेषज्ञ, श्रीमती मोना गुप्ता संचार विशेषज्ञ, श्री प्रभाकर सिन्हा स्वच्छता विशेषज्ञ आदि ने भाग लिया।

    संवादक: अमन

    इसे भी पढ़े: पोषण माह अभियान के तहत पोषण मेला का हुआ आयोजन

    विवरण: सभी विभागों के सहयोग से स्वास्थ्य सेवाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का लक्ष्य जिला स्वास्थ्य व्यवस्था की हुई समीक्षात्मक बैठक

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें