शुक्रवार, 13 सितंबर 2019

Tagged Under: , , ,

जिला स्वास्थ्य समिति की आयोजित की गई समीक्षात्मक बैठक

लेखक: अपना समाचार दिनांक: सितंबर 13, 2019
  • शेयर करे

  • आज समाहरणालय सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षात्मक बैठक जिला पदाधिकारी अध्यक्षता में की गई.
    स्वास्थ्य कार्यों की समीक्षा करते हुए जिला पदाधिकारी ने कहा कि जिले की स्वास्थ्य सुविधा में सुधार की जरूरत है पूर्णिया जिला कालाजार पल्स पोलियो प्रतिरक्षण एवं उपयोगी टीकाकरण में अभी 22वें स्थान पर है. प्रखंडों में विशेषकर बायसी अमौर बैसा एवं डगरूआ की सुधार काफी धीमी गति से हो रही है. इसमें बहुत सुधार की आवश्यकता है. धीमी रैंकिंग पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने इसमे सुधार के निर्देश दिए व सुधार नहीं होने की स्थिति में करवाई किए जाने की बात की.  जिलाधिकारी ने बताया कि वर्तमान में पूर्णिया में कुष्ठ रोगियों की संख्या 342 है, जिसे कम करने की जरूरत है. उन्होंने अभियान चला कर 2020 तक कुष्ट रोग मुक्त भारत योजना को सफल बनाने का निर्देश दिया. इसके लिए जिला में 3100 आशा कर्मी, 153 सुपरवाइजर एवं 3100 स्वयं सेवकों को लगाया जायेगा. पूरे जिले में कुष्ट रोगियों की खोज कर दिनांक 19.09.2019 से 28.09.2019 तक कार्यक्रम चलकर उनका इलाज किया जायेगा. जिलाधिकारी ने आयुष्मान भारत की योजना का भी जायज़ लिया. आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत जिले में अभी तक 18000 लोगों का गोल्डन कार्ड बना है जबकि जिले का लक्ष्य 2 लाख लोगों का गोल्डन कार्ड बनवाना है. इसमें विशेष पहल करते हुए सुधार के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया. इसके अलावा जिला पदाधिकारी ने सभी स्वस्थ्य पदाधिकारियों को सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए. कार्यक्रम में जिला सिविल सर्जन मधुसूदन प्रसाद जिला परिषद अध्यक्षा कांति देवी डीपीओ आईसीडीएस सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डीपीएम बीसीएम सीडीपीओ एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

    • कुष्ट रोगियों को ढूंढकर इसी माह उनका किया जाएगा इलाज
    • आयुष्मान भारत के तहत बनाने वाले गोल्डन कार्ड की स्थिति में तेज़ी लाने के दिए निर्देश


    संवादक : अमन

    इसे भी पढ़े : पोषण पुनर्वास केंन्द्र ने दी दो बहनों को नई ज़िंदगी

    0 टिप्पणियाँ:

    टिप्पणी पोस्ट करें